पूजा क्षेत्र में गणेशजी की वह मूर्ति न रखें जो बैठी हुई अवस्था में न हो

चमड़े से बने उपहार भेंट मत की जिए।

पैसे से जुआ नही खेलना चाहिए।

लक्ष्मी जी की आरती के समय तालियाँ ना बजाए, उसकी जगह आप छोटी घंटी का इस्तेमाल कर सकते है। कहा ये भी जाता है की लक्ष्मी जी को शोर पसंद नही इसलिए तेज आवाज़ में चिल्ला कर आरती न करे।

दारू और मांस का सेवन नही करना चाहिए। 

कोशिश करिए की स्थानीय किसी छोटी दुकान से दिये ख़रीदे।

सिल्क या सिन्थेटिक कपड़े नही पहने, वे आग पकड़ सकते है। 

ऐसी हि और जानकारियो के लिए फ़ॉलो करे।

ऐसी हि और जानकारियो के लिए फ़ॉलो करे।